Hard disk क्या है?, (What is Hard disk in Hindi?) Types of Hard disk, HDD और SSD के मुख्य अंतर क्या-क्या है?

Hard Disk क्या है? कभी यह सवाल आपके दिमाग मे आया है। और क्या आप इसे जुडी जानकारी पाने मे रूचि रखते है तो आप बिलकुल सही आर्टिकल पर आये है। इस आर्टिकल मे आप जानेंगे की What is Hard Disk in Hindi?, Hard Disk कितने प्रकार के होते है? और अनेक Hard Disk से जुडी जानकारिया पाने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

Hard Disk को Hard Drive, HDD, Fix Drive के नाम से भी जाना जाता है। ये एक प्रकार का Storage Device है। इस Device की सहायता से कंप्यूटर मे (Video, Document, Music, File, Operating System and Softwares Etc.) को स्टोर किया जाता है।

कंप्यूटर मे दो प्रकार की Memory का प्रयोग किया जाता है। जिसे हम Primary और Secondary Memory के नाम से जानते है। Hard Disk कंप्यूटर की Secondary Memory होती है। Hard Disk के बिना किसी भी प्रकार के Data को कंप्यूटर मे Store नहीं किया जा सकता है। Data के बिना Computer Boot भी नहीं हो सकता है।

तो चलिए जानते है! Hard Disk क्या है? व Hard Disk कितने प्रकार के होते है?


Hard Disk क्या है? (What is Hard Disk in Hindi?)

Hard Disk कंप्यूटर मे उपयोग किया जाने वाला एक Mechanical Storage Device होता है। जिसे हम Hard Disk Drive (HDD) के नाम से जानते है। ये Device कंप्यूटर Motherboard पर एक Wire Connector की सहायता से जुड़ा रहता है।

Hard Disk कंप्यूटर की Secondary Memory होती है। साथ हि यह एक Non-Volatile Memory होती है। जिसमें Store किया हुआ Data Computer System के OFF होने पर Delete नहीं होते है। ये Data Permanent Store रहता है। जिसे Use द्वारा Delete किया जा सकता है।

Hard Disk मे Data को एक गोलाकर Magnetic Disk मे स्टोर किया जाता है। Digital Data को Magnetic Disk मे Store करने के लिए बहुत सारे Track और Sector Disk पर उप्लब्ध होते है। जहा Digital डाटा को Binary Digit की सहायता से इन Track और Sector मे स्टोर कर दिया जाता है।

Hard Disk मे स्टोर डाटा को User द्वारा Read व Write भी किया जा सकता है। इस प्रक्रिया को करने के लिए Disk में एक Read/Write Arm उपस्थित होता है। जो Data को User के Command अनुसार Read व Write कर सकता है।

Magnetic Disk पर से Data को Read व Write करने के लिए Disk एक तेज़ गति से गोल घूमता है। जिसे हम RPM (Revolution per minute) की सहायता से मापते है। Disk के Rotation के साथ Read/Write Arm दांये/बांये Move होकर Data को Magnetic Disk पर से Read/Write करता है।

अधिक RPM वाले Hard disk की कार्य क्षमता ज़्यादा होती है। Market मे 5400 RPM और 7200 RPM वाले Hard disk बहुत सरलता से उप्लब्ध होते है। Storage Capacity के अनुसार कंप्यूटर मे बड़े Size 1TB, 2TB, 3TB, 4TB और इसे अधिक Memory की Hard Disk भी उप्लब्ध होती है।

Hard Disk की विशेषताएँ (Characteristics of Hard Disk in Hindi)

  1. Hard disk की Storage Capacity Size अन्य Storage Devices से बहुत अधिक होती है।
  2. Hard disk एक Non-Volatile Memory होती है। जिसमे Data Permanent Store होता है।
  3. Hard disk मे Store Data को Read व Write किया जा सकता है।
  4. ये Storage Device Floppy disk से बहुत ज़्यदा Fast होती है।
  5. Hard disk अन्य Storage Devices से सस्ता व भरोसेमंद होता है।

Hard Disk के प्रकार (Types of Hard Disk in Hindi)

दुनिया की सबसे पहली Hard Disk का निर्माण सन 1956 मे IBM (International Business Machine) द्वारा किया गया। इस Hard disk की Storage क्षमता 5MB और वज़न 250KG था। समय के विकास के साथ साथ Hard Disk मे भी अनेक बदलाव आये और आज यह हमे बहुत से प्रकार मे उप्लब्ध होते है।

Hard Disk के चार प्रकार होते है।

  • PATA 
  • SATA
  • SCSI
  • SSD

PATA Hard Disk

PATA का पूरा नाम Parallel Advanced Technology Attachment होता है। ये Hard disk का एक पुराना प्रकार है। जिसे पहले के कंप्यूटर मे बहुत प्रयोग किया जाता था।

इस Hard Disk को Motherboard से जोड़ने के लिए ATA Connector Cable का उपयोग किया जाता है। इस Connector मे 20 Pin हुआ करते है और ये दिखने मे बहुत बड़ा व चौड़ा होता है।

इस Disk मे डाटा को Store करने के लिये Magnetic Disk का प्रयोग किया जाता है। ये एक Slow Hard Disk होती है। इस Hard Disk की Data Transfer Speed लगभग 125 से 135 MB/S होती है। आज के आधुनिक कंप्यूटर मे इस प्रकार की Hard disk का प्रयोग नहीं किया जाता है।

SATA Hard Disk

SATA Hard disk का पूरा नाम Serial Advanced Technology Attachment होता है। आज इस प्रकार की Hard disk का प्रयोग कंप्यूटर, लैपटॉप मे बहुत अधिक होता है। इस Hard disk को Motherboard से जोड़ने के लिए SATA Connector Cable का प्रयोग किया जाता है। जो PATA Cable के मुक़ाबले पतली व छोटी होती है।

SATA Hard disk की Data Transfer क्षमता PATA से बहुत अधिक होती है। ये Speed लगभग 200 MB/S से 600 MB/S तक होती है। इस प्रकार की Hard disk User को एक अच्छी Data Transfer Speed प्रदान करती है। जो PATA Hard disk से बहुत बेहतर होती है।

SCSI Hard Disk

SCSI Hard disk का पूरा नाम Small Computer System Interface होता है। इस प्रकार के Hard disk का प्रयोग Computer Server मे किया जाता है। इसका Computer में भी प्रयोग किये जाते है। इस Hard disk को Computer Motherboard से जोड़ने के लिए Computer Interface Cable का प्रयोग होता है।

ये Hard disk पिछले दोनों PATA और SATA Hard disk से बेहतर है। और इसकी Data Transfer Speed भी बहुत अधिक होती है। इस Hard disk के Model Name (Ultra 640 SCSI) की Data Transfer Speed लगभग 640MB/S है।

SSD Hard Disk

SSD का पूरा नाम Solid State Disk होता है। ये एक आधुनिक और Latest Disk Drive है। ये Hard disk पिछली सभी Disk से तेज़ कार्य करती है।

इस प्रकार के Hard disk मे Flash Memory Technology का प्रयोग किया जाता है। ये Size व वजन मे सभी Disk Drive से छोटी होते है। पर इस प्रकार की Storage Device की कार्य क्षमता बहुत अधिक होती है। इस कारण इस की कीमत बहुत अधिक होती है। और Life Time बहुत ज़्यादा होता है।

HDD और SSD मे अंतर हिंदी में

आज कंप्यूटर उपयोगकर्ता द्वारा कंप्यूटर मे एक अच्छी व तेज़ Storage Device की बहुत ज़्यादा मांग रहती है। इस वजह से हमे अलग-अलग कंप्यूटर लैपटॉप मे HDD और SSD जैसे Storage Device मिल जाते है।

तो चलिए जान लेते है। कि आपकी आवश्यक्ता के अनुसार आपको कौन सा Storage Device लेना चाहिए HDD या SSD और जानते है इनमे अंतर क्या-क्या है।

  1. HDD एक Mechanical Device होता है। इसलिए ये जल्दी खराब हो जाते है वही SSD एक Electrical Device होता है। जिसमें IC का प्रयोग किया जाता है जो लम्बे समय तक चलते है।
  2. Hard Disk Drive की Data Transfer क्षमता SSD की Data Transfer क्षमता से बहुत ज़्यादा कम होती है।
  3. HDD वजन व Size मे बहुत ज़्यादा बड़े होता है। वही SSD का Size छोटा व वजन बहुत कम होता है।
  4. HDD बहुत ज़्यादा बड़ी Memory Capacity मे भी उप्लब्ध होती है। वही SSD ज़्यादा बड़ी Memory Size मे उप्लब्ध नहीं होती।
  5. HDD की कीमत कम होती है। और SSD की कीमत बहुत ज़्यादा होती है।
  6. HDD कार्य करते समय Noise या आवाज़ करता है। वही SSD कार्य करते समय Noise नहीं करता है।

Hard Disk के मुख्य भाग व उनके कार्य 

Hard disk एक Mechanical Storage Device है। जो बहुत से भाग (Parts) से मिलकर बना है। और इन सभी Parts से मिलकर ये कार्य करता है। तो चलिए विस्तार से जाने की Hard Disk के मुख्य भाग कौन-कौन से है? व उनके कार्य क्या क्या है?

Platter 

Platter Hard disk का मुख्य भाग है। Platter एक प्रकार की Magnetic Metallic Disk होती है। जिसमे Digital Data को स्टोर किया जाता है। ये Disk दिखने मे किसी CD(Compact disk) जैसी होती है।

इस Disk मे Digital Data को Magnetic Track और Sector मे Binary System के माध्यम से स्टोर किया जाता है।

Spindle 

Spindle एक Rotating Shaft होता है। जिसके ऊपर Hard disk का Platter रखा होता है इस Rotating Shaft की वजह से Platter गोल-गोल Rotate कर पाता है। इस डी.सी मोटर से जोड़ा जाता है।

Spindle की Rotation को Measure करने के लिए हम RPM Unit का प्रयोग करते है।

Read/Write Head 

ये एक छोटा मैगनेट होता है। जो Read/Write Arm के एक छोर पर उपस्थित होता है। इस Head की सहायता से हि User Command पर Data को Platter पर से Read/Write की जाता है।

Read/Write Arm 

Read/Write Arm एक हाथ की तरह कार्य करता है। जिसके आखरी छोर पर Read/Write Head लगा होता है। ये Arm Platter पर Data को Read/Write करने के लिए R/W Head को दांये बांये Move करता है।

Actuator 

Actuator एक Shaft से जुड़ा रहता है। जो R/W Arm को घूमने में सहयाता करता है।

Power Connector 

Power Connector Hard Disk की Outer body पर उपस्थित होता है। इसकी सहायता से हार्ड डिस्क को  Power Supply किया जाता है।

IDE Connector 

IDE का पूरा नाम Integreated Drive Electronics होता है। ये एक प्रकार का Connector होता है जिसकी सहायता से Disk Drive को Motherboard से जोड़ा जाता है।

Circuit Board 

Circuit Board का प्रयोग Platter से Data के आदान प्रदान को नियंतित्र करने के लिए होता है।

LOGIC Board 

ये एक प्रकार की Electronic Chip होती है। जिसकी सहायता से HDD के Input व Output की जानकारी को Control किया जाता है।

प्रमुख Hard Disk निर्माता  

नीचे कुछ भारत मे प्रयोग होने वाले हार्ड डिस्क निर्मात ब्रांड के नाम दिए है। जिन्हे आप निचे देख सकते है।

Western Digital
Toshiba
ADATA
Seagate
Transcend
HP (Hewlett-Packard)


Hard Disk के फायदे (Advantages of Hard Disk)

  1. Hard disk कंप्यूटर को Large Store Capacity प्रदान करते।
  2. Hard disk एक बढ़िया और कम कीमत पर मिलने वाला एक Storage device है।
  3. Hard disk एक Non-Volatile Memory होती है। जिसमे Store Data Permanent Secure रहता है।
  4. Hard disk मे Store Data को एक से अधिक बार प्रयोग किया जा सकता है।
  5. Hard disk मे Data को User Command अनुसार Read व Write किया जा सकता है।

Hard Disk के नुकशान (Disadvantages of Hard Disk)

  1. Hard disk मे Mechanical Fault के कारण ये खराब हो जाते है।
  2. ज्यादा प्रयोग करने के बाद Hard disk की RPM Speed कम हो जाती है।
  3. System के Direct या Sudden OFF होने पर Hard disk पर बुरा Impact पड़ता है।
  4. Hard disk के गिरने पर अंदर लगे Mechenical Parts खराब हो जाते है।

आज आपने क्या सीखा 

इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपने जाना होगा कि Hard Disk क्या है? (What is Hard disk in Hindi?) Hard disk के कितने प्रकार है? और Hard disk से जुडी अनेक जानकारी आपने इस आर्टिकल मे जानी होगी।

हम आशा करते है। कि आपको यह आर्टिकल Hard disk क्या है? अच्छा लगा होगा और इसे आपको Hard disk के बारे मे सभी जरूरी जानकारियों प्राप्त हो गयी होगी।

अगर यह आर्टिकल आपको एक अच्छा ज्ञान दे पाया है। तो आप इसे ज्यादा से ज्यादा अपने परिवार और दोस्तों को शेयर करे।

Post a Comment

0 Comments